5/10/2019

अनार के फायदे - इसके उपयोग जानिए हिंदी में

अनार के फायदे और इसके उपयोग


अनार के फायदे : अनार खाने से हमारे शरीर को अनेक तरह के फायदे होते हैं। अनार एक ऐसा फल है जिसमे कई तरह के गुण होते हैं और कई रोगो के उपचार में भी काम आते हैं। अनार में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जिसकी हमारे शरीर को बहुत जरूरत होती है। अनार में विटामिन इ, विटामिन सी, विटामिन के, फाइबर और एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर को रोगो से बचाते हैं। इंसानो को फलों का उपयोग रोजाना करना चाहिए क्यूंकि इस तरह के फल शरीर को रोगमुक्त बनाते हैं शरीर में विटामिन्स को बनाये रखते हैं जिससे हमारा शरीर चुस्त रहता हैै। अनार के फायदे जानने के बाद आप ये तो जान ही जायेंगे की अनार कितना गुणकारी हैै। अनार के फायदे तो अनेक हैं लेकिन उनमे से कुछ अनार के फायदे बताये गए हैैं तो चलिए जानते हैं की अनार के फायदे क्या हैं और यह इंसान को कैसे रोगमुक्त और दुरुस्त बनाते हैैं।

anar ke fayde

अनार में पाए जाने वाले विटामिन्स की मात्रा कुछ इस प्रकार है।
  • प्रोटीन - 3%
  • कैल्शियम - 1%
  • एनर्जी - 4%
  • कार्बोहाइड्रेट - 14%
  • विटामिन C - 17%
  • विटामिन E - 4%
  • विटामिन K - 14%
  • फैट - 6%
  • फाइबर - 11%
  • फास्फोरस - 5%
  • पोटेशियम - 5%
  • राइबोफ्लेविन - 4%
  • थायमिन - 5.5%
वैसे तो हर फल के कुछ न कुछ फायदे होते हैं लेकिन ये एक ऐसा फल है जिसमे हर तरह के गुण होते हैं। बस इतना समझ लीजिये की अनार के बीज के फायदे अनेक हैं।

अनार का उपयोग ज्यादातर खून बढ़ाने के लिए किया जाता है। डॉक्टरों की माने तो पूूरे दिन में कम से कम एक अनार जरूर खाना चाहिए। और अगर फल नहीं खा सकते हैं तो इसका जूस पी सकते हैं। इसे रोजाना खा सकते हैं क्यूंकि अनार के फायदे एक दिन में नहीं मिलेंगे। आप इसे रोज या एक दो दिन के अंतराल पर खा सकते हैं।

अनार का जूस तजा बनाकर पिया जाये तो वो ज्यादा फ़ायदेमंद होते हैं। क्यूंकि उसमे एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा ज्यादा होती है। बाजार में आपको कई तरह के पैकेट्स वाले जूस मिल जायेंगे उसे न पिए क्यूंकि वो कई कई दिनों के हो सकते हैं और जिसे पिने से आपको कुछ बीमारियों का सामना भी करना पड़ सकता है। आप इसे सुबह के वक्त खा सकते हैं। क्यूंकि सुबह के वक्त हमारा मेटाबोलिस्म डाउन हो जाता है इसलिए इसका रस जल्दी फायदा करता है।

अनार के फायदे


त्वचा के लिए अनार के फायदे


  • अनार स्वाथ्य के साथ सुंदरता को भी बढ़ता है।
  • इसके सेवन से त्वचा में नमी आता है।
  • इसके रोजाना सेवन से चेहरे पर समय से पहले झुर्रियां नहीं आती है।
  • यह आखों के निचे बने डार्क सर्किल को ख़त्म करता है और चेहरे पर दाग धब्बो और कील मुहासोंं को भी ख़त्म करता है।
  • यह ऑयली स्कीन से छुटकारा दिलाता है।
  • और यह त्वचा में होने वाले इन्फेक्शन होने से रोकता है।

बालो के लिए अनार के फायदे

  • अनार बालो के लिए भी काफी उचित होता है इसके रोज सेवन से बालो का झड़ना कम होता है और बााल मजबूत होते हैं।
  • यह बालो को नमी देता है जिससे बााल मुलायम और सिल्की होते हैं और बालो का रूखापन ख़त्म होता है जिससे बालो में रुस्सी वगैरा भी नहीं होते हैं। 
  • इसके सेवन से बाल सॉफ्ट, सिल्की, लम्बे और घने होते हैं।
  • यह रूखे बालो में नयी जान लाता है और कई विटामिन्स और मिनरल प्रदान करता है।

अनार के स्वाथ्य के लिए फायदे

तो चलिए जानते है स्वाथ्य में अनार के क्या फायदे हैं। और ये किन किन बिमारियों से छुटकारा दिलाते हैं। इसे जानकर आप बेहद खुस होंगे। अनार के फायदे को लोग कई रूप में वयक्त करते हैं। और वैसे तो अनार के कई फायदे हैं लेकिन कुछ फायदे इस प्रकार हैं।

खून बढ़ाने में अनार के फायदे

अगर आपको कुछ बीमारी है और आप डॉक्टर्स के पास जाते है तो वो सबसे पहले अनार का सजेस्ट देता है। क्यूंकि अनार के दाने बहुत फायदेमंद होते हैं। जो एनीमिया के मरीज हैं या जिन्हे खून की कमी है उनके लिए अनार काफी जरूरी है।

खून में शुगर लेवल को कण्ट्रोल करता है

अब आप सोचेंगे की अनार तो मीठा फल है इससे शुगर कम कैसे होगा इससे तो शुगर लेवल और भी बढ़ जायेगा। तो ऐसा नहीं है अनार में फ्रुक्टोज़ नाम का एक पदार्थ पाया जाता है। जो शुगर को काफी हद तक नियंत्रित करता है। ज्यादातर लोग जो मधुमेह के सीकार होते हैं उन्हें ज्यादा फल खाने की सलाह नहीं दी जाती 
है। लेकिन इसके इस गुण के कारन डॉक्टर्स इसे इस्तेमाल करने का सलाह देते हैं।

ब्लड प्रेसर में अनार के फायदे

अनार का रस ब्लड प्रेसर को भी कण्ट्रोल करता हैाा इसका उपयोग ज्यादातर दिल के मरीज करते हैं। इसे खाने से रक्त का संचार अच्छा हो जाता है जिससे रक्त के थक्के बनने का खतरा कम हो जाता है।

कैंसर की बीमारी में अनार के फायदे

क्यूंकि अनार एंटीऑक्सीडेंट होता है और ये शरीर में मौजूद कई सारे विषैले तत्वों को बहार निकालने में मदद करता है जिस वजह से कैंसर जैसे बीमारियों का खतरा काम हो जाता है। यह वाइट ब्लड सेल्स को मजबूत बनता है और इम्यून सिस्टम को भी बढ़ता है। यह शरीर में मौजूद टोक्सिन को बहार निकाालता है और ब्रैस्ट कैंसर होने से रोकता है। इसका उपयोग करने से रोग की प्रतिरोधक छमता बढ़ती है जिसके कारन व्यक्ति रोगमुक्त रहता है।

पाचन तंत्र में अनार के फायदे

अनार के रोजाना सेवन से पाचन सम्बंधित समस्या दूर हो जाती है। ये पेट सम्बन्धी बिमारियों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। गर्मियों में ज्यातर लोग अनार का रस पीना पसंद करते हैं। अनार में काफी मात्रा में फाइबर होता है जिससे पाचन तंत्र अच्छा रहता है। यदि आपका पाचन क्रिया गड़बड़ है तो आप इसका सेवन कर सकते हैं।

वजन कम करने में अनार के फायदे

अगर आपका सामान्य से ज्यादा वजन है तो आप अनार का सेवन जरूर करें। अनार वजन कम करने में भी कारगर है। इसके नियमित सेवन से शरीर में जमी हुवी अनुपयोगी चर्बी कम होती है जिससे वजन कम होता है।

गर्भवती महिलाओ के लिए अनार के फायदे

अनार गर्भवती महिलाओ के लिए भी कारगर शाबित होता है। अनार में कई तरह के विटामिन्स और मिनरल तत्व पाए जाते है जो के उसके बच्चे के लिए काफी लाभकारी होता है। अगर गर्भवती महिला अनार का सेवन नियमित रूप से करती है तो बच्चे का वजन भी सामान्य होता है। और बच्चो में होने वाले जन्मजात बीमारियों का खतरा काम रहता है।

हृदयरोग में अनार के फायदे

अनार के फायदे तो कई सरे है पर हिर्दय सम्बंधित रोगो को नियंंत्रित करने में इसका काफी योगदान होता है। अनार का जूस रक्त संचार में काफी मदद करता है इसलिए इससे हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता हैा इसके सेवन से शरीर में उपस्थित धमनिया सुचारु रूप से चलती हैं। और उसमे होने वाले सूजन वगैरा को होने से भी रोकता है। यह रक्त फ्लो को स्मूद बनाता है और खून के थक्के बनने से भी रोकता है। ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी नियंत्रित करता है जिससे इंसान चुस्त और तंदरुस्त दिखाई देता है। यह खून को शुद्ध करता है और पाचन को भी दुरुस्त करता है।

अनार के फायदे प्रतिरोधक छमता बढ़ाने में

अनार में ऐसे कई तरह के तत्व भी पाए जाते हैं जो वायरस और बैक्टीरिआ से लड़ने में मदद करते हैा ये दांतो में होने वाले कैविटी को भी ख़त्म करता है। अनार खाने से एच आई वी का खतरा भी कम हो जाता हैा और कैंसर जैसे बिमारियों से लड़ने में भी मदद करता है।

हड्डियों के लिए अनार के फायदे

ऐसे मरीज जिनको ऑस्टियोआर्थराइटिस की बीमारी है ये उनके लिए भी लाभकारी होता है। इससे जोड़ो और हड्डियों का दर्द भी कम होता है क्यूंकि यह सूजन को कम करता है। कई लोगों का पूछना होता है की अनार खाने का टाइम क्या है और अनार कब खाना चाहिए। तो आप सुबह में अनार खा सकते है। सुबह का समय ७ दिन अनार खानेे के फायदे हैं।

तो ये थे अनार के कुछ फायदे आशा है की ये पोस्ट पसंद आया होगा।
Read More

3/27/2019

Blog kaise banaye in hindi (2018) updated

Blog kaise banaye : अगर आप ब्लॉगिंग से पैसे कमाने की सोच रहे हैं तो आप बिलकुल सही जगह आए हैं। आपने इंटरनेट से पैसे कमाने के बारे में सुना होगा और आप यह भी जानते होंगे कि बहुत से लोग घर बैठे आसानी से ब्लॉग या वेबसाइट बनाकर पैसा कमा रहे हैं।

Blog kaise banaye

आज, इंटरनेट दुनिया का सबसे बड़ा आविष्कार होने जा रहा है, जिसके माध्यम से कोई भी किसी भी तरह से अपनी समस्याओं को हल कर सकता है। आजकल ज्यादातर काम कंप्यूटर और इंटरनेट के जरिए होता है।.जैसे ऑनलाइन शॉपिंग करना, बिल भरना, ऑनलाइन फॉर्म भरना, और कई अन्य चीजें हैं जो इंटरनेट के माध्यम से हो रही हैं। अब मैं आपको Blogger से Blogging सिखाउंगा। तो दोस्तों अगर आप इस ब्लॉग पर नए हैं तो शायद आप नहीं जानते कि ब्लॉग कैसे बनाते हैं और ब्लॉगिंग कैसे करते हैं। इसके बारे में मैं पिछले दो पोस्ट में विस्तार से बता चुका हूँ। ब्लॉग कैसे बनाये।
Blog kaise banaye
Blog kaise banaye

Blog kaise banaye

अब मैं सीधे ब्लॉगिंग पर आता हूँ। आपने यह भी सुना होगा कि ब्लॉगिंग से पैसे कमाए जा सकते हैं। क्या यह सच है, हाँ यह बिल्कुल सच है कि आप ब्लॉगिंग से पैसा कमा सकते हैं। और अपने सोच से ज्यादा कमा सकते हैंअगर आपको कोई प्रॉब्लम आती है तो या कुछ खोजना होता है तो आप डायरेक्ट उस चीज को गूगल पर सर्च करते हैं और गूगल कई साारे रिजल्ट show करता है जिसमे से आप किसी एक रिसल्ट पर क्लिक करके अपनी प्रॉब्लम का solution खोजते हैं।ब्लॉग कैसे बनाये।

आप को शायद ये पता होगा की google पर कुछ भी सर्च करने से जो result आता है वो गूगल के खुद के नहीं होते हैं वो किसी ब्लॉगर या वेबसाइट owner के होते हैं जिन्होंने उस आर्टिकल को या पोस्ट को पब्लिश किया होता है और उसी से वो लोग पैसे earn करते हैं। तो चलिए बिना किसी देर ‍केे सीखते हैं कि ब्लॉग कैसे बनाये।

ब्लॉग कैसे बनाये ये जानने से पहले आप को ये जानना होगा की ब्लॉग 
क्या है और ब्लॉगिंग क्या है। तो ब्लॉग्गिंग एक ऐसा काम है जहा आप अपनी बात को, अपने नॉलेज को, अपने स्किल्स को लोगो के सामने रख सकते है और उनसे सीख सकते हैं। और ब्लॉग्गिंग एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां आपको आपकी मेहनत के हिसाब से पैसे मिलते हैं। आप इसमें जितना मेहनत करेंगे आपको उतनी ही सफलता मिलेगी बस आपको धीरज रखना होगा।
blog kaise banaye in hindi

ऐसा नहीं है की आपने आज ही ब्लॉग्गिंग स्टार्ट किया और कल से आपकी earning शुरू हो जाएगी। ऐसा नहीं है आपको 15 दिन भी लग सकते है 3 महीने भी लग सकते है या 6 महीने भी लग सकते हैं। ये बस आपकी म्हणत पर निर्भर करता है की आप ब्लॉग्गिंग को कितना seriously ले रहे हैं।

Website ko kaise promote kare

ब्लॉग्गिंग के लिए आप के पास ये चीजे होना चाहिए: 
  • Google gmail account
  • Computer ya smartphone
  • Internet connection

Blogger par blog kaise banaye:

1. सबसे पहले आपको अपने ब्राउज़र में सर्च करना है “blogger.com”.

2. अब आपको create new account पर क्लिक करना है।

3. अब आपके सामने नया विंडो खुलेगा उसमे आपको अपने जीमेल अकाउंट से लॉगिन करना है अगर पहले से लॉगिन है तो शायद ये नहीं पूछेगा।

4. लॉगिन होने के बाद आपको कुछ इस तरह का इंटरफ़ेस दिखाई देगा
Blog kaise banaye
Blog kaise banaye

Title : टाइटल में आपको अपने ब्लॉग का टाइटल डालना है जैसे मेरे ब्लॉग का Title Hindi Too है।

Address : इसमें ब्लॉग का address डालना है जैसे मेरे ब्लॉग का address है hinditoo.blogspot.com. तो आपको सिर्फ hinditoo डालना है आप अपने हिसाब से जो भी address डालना चाहते हैं डाल सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे ब्लॉग का  title और address मिलता जुलता होना चाहिए।ब्लॉग कैसे बनाये।

इसका एक फायदा है के एक तो आपके ब्लॉग का seo यानि की गूगल सर्च इंजन में आपकी रैंकिंग होगी और दूसराा फायदा ये है की लोग आपकेे ब्लॉग के address को आसानी से याद रख पाएंगे।आप चाहे तो बाद में custom domain भी खरीद कर ऐड कर सकते हैं।जैसे hinditoo.com या hinditoo.in या और भी किसी टॉप लेवल डोमेन को ऐड कर सकते है. अगर आप डोमेन के बारे में डिटेल में जानना चाहते है तो ये पोस्ट पढ़े। ब्लॉग कैसे बनाये।

Onpage seo kiya hai

Template : यहाँ आपको कुछ template मिल जायेंगे लेकिन वो इतने अच्छे look नहीं देते हैं। लेकिन अभी के लिए आपको इसी में से किसी एक को सेलेक्ट करना होगा। अगर आप ब्लॉगर पर custom template लगाना चाहते है। तो इस आर्टिकल को पढ़ कर आप आसानी से अपने ब्लॉग का theme यानि की template चेंज कर सकते हैं।


Blogger me custom template kaise lagaye



Create Blog : लास्ट में आपको create blog पर क्लिक करना है। अब आपका ब्लॉग बन चूका है।

आशा करता हूँ की ये पोस्ट "blog kaise banaye in hindi" आपके लिए useful साबित हुवा होगा. 
Read More

3/26/2019

Blogging kya hai | Blog kya hai पूरी जानकारी हिंदी में

Blogging kya hai, Blog kya hai: Hindi Too में आपका स्वागत है। कई बार आप लोगो ने ब्लॉग्गिंग का नाम तो सुना होगा।  लेकिन जानते नहीं होंगे की ब्लॉग्गिंग होता किया है, कैसे होता है और लोग इसे क्यों करते है। तो आज इस पोस्ट में इसी पर बात करने वाला हूँ।  ये basic जानकारी है मुझे लगता है कई लोगो को पता होगा। लेकिन कई लोग ऐसे है ‍‍‍जिन्होंने सिर्फ ब्लॉग्गिंग का नाम ही सुना है उनके बारे में जानते नहीं है तो चलिए आगे बढ़ते है तो आज इस पोस्ट में जानेगे ब्लॉग्गिंग किया है ब्लॉगर क्या है ब्लॉगर की पूरी जानकारी ब्लॉगर और ब्लॉग्गिंग डिटेल्स इन हिंदीेेे।ब्लॉग्गिंग इन हिंदी ब्लॉग्गिंग क्या है ब्लॉग क्या हैैै।
blogging kya hai aur blog kya hai janiye hindi me.
ब्लॉग्गिंग क्या है, ब्लॉग क्या है

Blogging kya hai, Blog kya hai

Blogging kya hai और Blog kya hai: ब्लॉग एक ऐसा चैनल है जहां आप अपने विचार शेयर कर सकते हैं इसे एक पब्लिक जर्नल डायरी या बुक के रूप में देखा जा सकता है आप personal thoughts और ideas शेयर कर सकते हैं quick update कर सकते हैं या दूसरों को भी जानने की कोशिश कर सकते है जिनसे आप कुछ सीख सकते है।

आप जो पब्लिश करते हैं वह आप पर निर्भर है लेकिन मैं recommend करता हूँ की हर कोइ 6 महीने तक कम से कम ब्लॉग्गिंग की तैयारी करे।
क्यूँ? क्युँकि यह दूसरों से feedback (प्रतिक्रिया) पाने का एक शानदार तरीका है जिसमे लोग आपको कमैंट्स कर सकते हैं और आपको सलाह दे सकते हैं।

मेरे लिए एक ब्लॉग लगातार नयी चीजों को पोस्ट करने के लिए और लोगो को जानकारी देने के लिए एक अच्छा स्थान है।

Blogging kya hai, Blog kya hai

यह लोगों के लिए अपने writing skills के जरिये अपने विचार शेयर करने के लिए एक केंद्र हैैै। और उन subject के बारे में नए ideas को खोजने के लिए एक आसान तरीका है।

यह life, food, travels और किसी भी चीज के बारे में अपने करीबी दोस्तों और परिवाराेें के साथ शेयर करने के लिए एक personal journal हो सकता है। या यह investment और design के साथ एक तेजी से बढ़ता हुआ website हो सकता है. यह आप पर निर्भर करता है।

आज ही ब्लॉग्गिंग शुरू करने की कोशिश करें और आप जल्द ही सीख सकते हैं।

अगर सीधे शब्दों में कहूँ तो ब्लॉग एक मैगनेट की तरह है जो आपके potential customer को attract करता है यदि आप high quality content लिखते हैं।

Blogging kya hai और Blog kya hai...

ब्लॉग के बारे में अधिक जानने के लिए ब्लॉग्गिंग करना एक अच्छा रास्ता है। लिखने से ज्यादा और अधिक पढ़ें तभी आप इसमें successful बन सकते है।

Finally, यह Networking के लिए एक बढ़िया टूल है। ब्लॉगिंग में वास्तव में successful होने के लिए आपको बहुत से लोगों के साथ सम्बन्ध बनाने की आवश्यकता होगी ताकि आपको इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिले सके।

Blogging kya hai, Blog kya hai...

तो मुझे लगता है इस पोस्ट से आपको ब्लॉग्गिंग के बारे में थोड़ी जानकारी मिल गयी होगी। अगले पोस्ट में मैं ब्लॉग बनाना, ब्लॉग्गिंग करना, ब्लॉग्गिंग से रिलेटेड और भी जानकारी ले कर आऊंगा।

ब्लॉग्गिंग क्या है, ब्लॉग क्या है... 
ब्लॉग्गिंग सीखने के लिए बने रहिये मेरे साथ आशा करता हूँ की ये पोस्ट  "Blogging kya hai, Blog kya haiआपको अचछा लग होगा।

Read Also:

Read More

3/24/2019

Seo kaise kare? on page seo की पूरी जानकारी

Seo kaise kare? on page seo की पूरी जानकारी हिंदी में

Seo kaise kare: दोस्तों आपने SEO का नाम तो सुना ही होगा। Seo का full form "Search Engine Optimization" होता है। और आप इसके बारे में जानते ही होंगे और अगर नहीं जानते है। तो इस पोस्ट में आप ये जानोगे की on page seo क्या है। On page seo का मतलब है अपने पोस्ट को सही तरह से optimize करना। तो चलिए जानते है की "on page seo kya hai" अपने पोस्ट का "on page seo kaise kare".

seo kaise kare
Seo kaise kare

Seo kaise kare

आप को तो पता ही होगा की गूगल दुनिया का सबसे बड़ा Search Engine मन जाता है। वैसे और भी कई सर्च इंजन है जैसे Yahoo, Bing etc. लेकिन ये सब इतने popular नहीं है जितना की गूगल है। और हम अपनी पोस्ट को search engine optimization की मदद लेकर गूगल के पहले नंबर पर ला सकते है। अगर आप google में कुछ भी search करते है तो गूगल पहले पेज पर हमे 10 रिजल्ट दिखता है। ये गूगल के बनाये हुए algorithm पर काम करता है। जिसमे on page seo और of page seo शामिल है।

Website ko kaise promote kare

 Contents


Title : पोस्ट का Title आपको ऐसा रखना है जो आपके पुरे कंटेंट से मिलता हो।यानि की आप के पोस्ट के हिसाब से ऐसा टाइटल दे जो लोगो को attract करे। याद रखिये टाइटल ज्यादा लम्बे भी नहीं होना चाहिए और ज्यादा छोटा भी नहीं होने चाहिए। आप का टाइटल करीब 65 characters का होना चाहिए। इससे थोड़ा सा ऊपर-निचे कर सकते है कोई बात नहीं है। और जितना हो सके ये कोशिश करे की आपका पोस्ट का keyword आपके पोस्ट के टाइटल में includeहोना चाहिए। क्युकी लोग जब search करते है तो टाइटल पढ़ कर दी आप की site पर आते है। और टाइटल से ही समझ में आ जाता है की अंदर पोस्ट में क्या होगा।

Description : अब बात आती है Description की। Title के बाद लोग description को ही पढ़ते है। अगर डिस्क्रिप्शन अच्छा लगता है तो साइट को खोलते है नहीं तो निचे scroll करके दूसरे साइट को देखते है। तो आप का डिस्क्रिप्शन seo के अनुसार लगभग 16o characters का होना चाहिए। इससे थोड़ा सा निचे कर सकते है लेकिन ऊपर करने पर आपके साइट के performance पर फर्क पढ़ सकता है। आपको डिस्क्रिप्शन कुछ ऐसा लिखना है की आपका keyword भी उसमे आ जाये और आपका पोस्ट किस बारे में है वो भी पता लग जाये। अगर आपका साइट ब्लॉगर पर है तो आपको टाइटल और डिस्क्रिप्शन का ध्यान रखना पढ़ेगा। लेकिन अगर WordPress पर है तो आप Yoast plugin इनस्टॉल करले ये आपको पोस्ट के optimize करने में काफी मदद करेगा. 


Url : अपना URL ज्यादा बड़ा न रखे। और अपने पोस्ट के keyword को उसमे include करे। जहाँ तक हो सके अपने टाइटल को ही पोस्ट का URL बनाये इससे पोस्ट के ranking के chances बढ़ जाते है। जैसे की अगर आपके पोस्ट का title है "Blog ko successful kaise banaye" तो आपका URL कुछ इस तरह होना चाहिए।
https://www.hinditoo.com/2018/03/blog-ko-successfull-kaise-banaye.html
और अगर आपका site WordPress पर है तो अपना url ऐसा रखे
https://www.hinditoo.com/blog-ko-successfull-kaise-banaye


Font : आपके पोस्ट का text format simple होना चाहिए। Format  थोड़ा सा बड़ा रखे ताकि पढ़ने में आसानी हो। और font का type Arial, Georgia या Times of New Roman रखे। और title को bold कर दे या  h1, h2 कर दे याद रखे h1, h2 का इस्तेमाल एक या दो जगह करे इससे ज्यादा न करे। कई लोग अपने पोस्ट को बढ़िया दिखााने के लिए हर important points को bold कर देते है। जिससे गूगल को ये पता नहीं चलता है की कौन सा टाइटल है और कौन नहीं। अगर किसी point को indicate करना है तो  h3, h4, h5, h6 या subhading का इस्तेमाल करे


Content : Site का content unique होना चाहिए। किसी के blog से copy किया हुवा नहीं होना चाहिए। अगर आप ऐसा करते है तो आप का पोस्ट गूगल में  rank नहीं करेगा साथ ही आपके वो पोस्ट जो आपने खुद से लिखे है वो भी google में rank होना मुश्किल है। इस लिए ध्यान रहे इस तरह का काम बिलकुल न करे इससे आपकी page rank एकदम से निचे गिर जायेगा।आपके site का content ही सबसे ज्यादा मायने रखता है। अगर आप trending वाले content डालते हो तो और बढ़िया है क्यूंकि users को ज्यादातर नए content ही अच्छे लगते है।


Internal link : Interlink का मतलब है आपके पोस्ट में आप ही के किसी दूसरे पोस्ट का  url होना। जैसे अगर आपके पोस्ट का टाइटल है  'Website ki loading speed ko kaise badhaye' तो इससे मिलते जुलते पोस्ट का url उस पोस्ट में आप link कर दे। और linking भी कुछ इस तरह से करे की जहा पर कोई बात समझने में थोड़ी मुश्किल हो तो उस बात को समझाने के लिए दूसरे पोस्ट का url दाल दीजिये। इससे होगा ये की users जिस post को पढ़ने के लिए आये है वो तो पढ़ेंगे ही साथ ही दूसरे पोस्ट को भी पढ़ेंगे। जिससे आप का ही फायदा होगाऔर इस तरह के पोस्ट को गूगल रैंक भी करता है

Seo kaise kare

Image : Image का size medium होना चाहिए। ऐसा नहीं होना चाहिए की आप 2 Mb का बढ़िया image लगा दे और user को post को open करने में ही time लग जाये। इसलिए जितना हो सके कम size का ही image का use करे और एक या दो से ज्यादा इमेज का use न करेें। ज्यादा image google को पसंद नहीं है। अगर आप एक article blogger हैं तो। और सबसे जरूरी ये है के जब भी आप पोस्ट लिखे अपने image में alt tag में अपने post का title use करे। इससे होगा ये की आपका image google image पर आ जायेगा और उसके जरिये लोग आपके पोस्ट तक पहुँच पाएंगे।


Keyword : अपने post में keyword का इस्तेमाल अच्छे से करे। Keyword का use ज्यादा न करे post में। अपने post के हिसाब से ही  keyword का इस्तेमाल कर। कई लोग होते है की जगह जगह पे अपने टाइटल का use करते हैं। ऊपर निचे बीच में भी कई बार use करते हैं। और लोग सोचते है की ज्यादा  keyword का use करने से साइट पहले no. पर आएगा लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है।


XML And HTML Sitemap : अपने site का XML sitemap  जरूर बनाये जिससे google को आपके  site के बारे में पता चल जायेगा। इसके जरिये आपको ये भी पता चल जायेगा की आपके कितने post google में rank हूए है और कितने नहीं।साथ ही आप HTML sitemap भी बना लीजिये जिससे user अपने हिसाब से आपके  site के जो भी post पढ़ना चाहेंगे पढ़ सकते है।
(Seo kaise kare)

seo in hindi, seo kya hai

Conclusion :

आशा करता हूँ की ये पोस्ट "Seo kaise kare"  आपके के लिए उपयोगी साबित हुआ होगा।



Read More

2/07/2019

Gmail account delete kaise kare hamesha ke liye

Gmail account delete kaise kare

Gmail account delete kaise kare: Agar aapke pass ek ya do se jyada email accounts hai aur ek ya do  emails ke alawa aur emails ka use nahi karte hai ya bahut kam use karte hai to aise me jyada email rakhna acha nahi hota hai kioki privacy ka khatra rehta hai kyuki hum un emails ko manage nahi kar pate hai aur bekar me pade rahne se behtar hai ki ham use delete hi kar de aur tension free ho jaye.
Kyuki jis email ka hum lambe samay tak use nahi karte hai use agar koi hack bhi karle to hume uska pata bhi nahi chalta hai kyuki hum uske notification nahi padh pate hai aur hackers assani se use apne kaam ke liye use karta rahta hai aur hume pata bhi nahi chalta ki kisi ne hamara account hack kar liya hai.
To is wajah se hume jyada faltu accounts nahi rakhne chahiye ha agar kaam hai to app account khol le lekin kaam hone par use band karde isse aapki privacy bani rahegi aur aap safe rahenge.
Agar aap kisi bhi wajah se apne gmail account ko deactivate ya delete karna chahte hai to is post me btaye gaye steps ko follow kare is post me maine "gmail account delete kaise kare" is ke baare me step by step bataya hai.
Agar aapko bhi ye janna hai ki apne gmail account delete kaise kare to is post ko padhte rahiye.


Gmail account delete kaise kare

Gmail account delete kaise kare

Jayatar ye hota hai ki kai bar hum ek se jyada google account bana to lete hai lekin unka use ek do baar karke chod dete hai aur dobara unka use nahi kar pate hai aise me aapke gmail account ko koi bhi hacker hack kar sakta hai aur uska misuse kar sakta hai to ye jaroori hai ke aap use na hone wale extra gmail accounts ko delete kar de.

Google gmail account ko delete karna bahut hi aasan hai aap niche bataye gaye steps ko follow karke sirf 2 minute me apna gmail account delete kar sakte hain.
No 1:
Sabse pahle aap ko jis bhi account ko delete karna hai us  account me login ho jaye.
No 2:
Login karne ke bad Google Account Settings par jaye aur Account preferences section me Delete your Account or services par click kijiye.


Gmail account delete kaise kare 2

No 3:
Ab jo page khulega usme Delete products par click kijiye.

Gmail account delete kaise kare 3

No  4:
Ab google aapko password confirmation karne ke liye puchega usme apna password enter kare.


Gmail account delete kaise kare 4

No 5:
Ab agar aap apne account ka backup banana chahte hai to download data par click kijiye aur agar seedha delete karna chahte hai to trash icon par click kare.


Gmail account delete kaise kare 5


No 6:
Ab ek naya pop-up window p khulega jisme aapko recovery email address add karna hai aap yaha par gmail id use nahi kar sakte yaha aap custom email address jaise hotmail ya zohomail ki id use kar sakte hain, ab apna extra email address add kare aur send verification email par click kare.

Gmail account delete kaise kare...


Gmail account delete kaise kare 6

No 7:
Ab google aapke dwara add kiye gaye email address par ek verification link send karega aapko us link par click karna hai.


Gmail account delete kaise kare 7

No 8:
Ab aap recovery email inbox me jayiye aur confirm mail ko open kare.

Ab Yes, I want delete gmail service permanently terms select kare aur Delete gmail par click kare.


Gmail account delete kaise kare 8

Gmail account delete kaise kare

No 9:

Ab aapne apne Google Account se gmail service ko permanently remove kar diya hai ab Done par click kijiye.


Gmail account delete kaise kare 9


Ab aapka gmail account permanently delete ho chuka hai aap chahe to iske mail message recovery email inbox me receive kar sakte hai ab jab bhi aap is gmail id se gmail.com par jaoge to kuch is tarah ka interface show hoga.


Gmail account delete kaise kare 10

Gmail account delete kaise kare

Agar aap chahe to yaha se 2-3 week ke andar apne gmail Account ko recover kar sakte hai.


Gmail account delete kaise kare...

Dosto kai aise student hote hai jo paise dekar kisi cafe se gmail account banwa lete hai school, college, online form ya scholarship ke liye lekin us ka kaam ho jane ke baad us ka use nahi karte pate hai jisse un ko aage chal ke khatra ho sakta hai.
Agar aap gmail account ko delete nahi karna chahte hai to kam se kam uske password ko kuch dino ya mahino ke antral par change karte rahe jisse aapko kisi bhi cheej ki tension nahi hogi aur samay samay par inbox bhi check karte rahe taki kisi khatre ka notification aaye to aapko pata lag jaye or aap apna password wagaira change kar sake.


To doston mujhe lagta hai ki ye jankari har kisi ke paas honi chahiye aur aapko bhi jankari hui hogi to aaj ka ye post "Gmail account delete kaise karekaisa laga mujhe comment karke jaroor bataye.

Also read:
Website ko kaise promote kare
Google me post ko fastly kaise index kare
On page seo kya hai

Blog Ko Successful Kaise Banaye aur jayda Earning kare
Website Loading Speed Ko Kaise Badhaye
Read More

1/23/2019

Google me post ko fast kaise index kare

Google me post ko fast kaise index kare: Jaisa ki aap jante hai ki hum jo bhi post likhte hai use sabse pahle Google crawl karta hai uske baad wo index karta hai tabhi hamari post google par link hoti hai aur log use read karte hai aap to jante hi honge ki google par index karana kitna jaruri hota hai. Bassically google hamare post ko 3-4 din me index kar deta hai lekin kayi baar ye hota hai ki aapne jo post likha hai logo ke liye very important hai aur use abhi hi index karana hai nahi to wo bekar ho jayega aur uska kuch matlab nahi rahega jaise ki aapka koi news ka site hai aur aapko koi news abhi hi logo tak pahuchana hai to aap asani se apni post ko 3-4 minute me index kara sakte hai maan lijiye ki aapne aaj ka news publish kiya lekin wo 3 ya 4 din baad index hoga to us news ka to koi matlab nahi rah gaya aur wo post bekat chala jayega.Basically ye feature news wale site ke liye banaya gaya hai lekin aaj-kal iska istemal har blogger karta hai kyon ki jab hamare post 3-4 minutes me index ho sakte hai to 3-4 din ka intezar kaun karega. To agar aap bhi ye janna chahte hai ki post ko jaldi index kaise kare to aage padhte rahiye.
Mujhe yakeen hai ke ye sab apne pahle se hi kar rakha hoga. To chaliye step follow karte hai.
Google me post ko fast kaise index kare
Google me post ko fast kaise index kare

Google me post ko fast kaise index kare

1 Aapka site Google Search Console me submit hona chahiye.
2 Aur sitemap bhi Google Search Console me add hona chahiye.

Google apne site ko submit karna bilkul hi asaan hai uske liye aapke pass hona chahiye ye do tareeko se ho sakta hai.

Google me post ko fast kaise index kare

First Mithode:
1 Apne site par jaye aur jis post ko submit karna hai uske url ko copy karle.
2 Sabse pahle apne browser me jakar google open kare.
3 "Submit url to" type karke enter press kare.
4 Search result me aapko sabse pahle Submit url to google aayega page ko kholna hai.
5 Insert box me apne post ka url paste kare.
6 Ab aapko yaha par verify karna hoga ki aap ek insaan hai robot nahi isme aapko kuch car, shop, store, etc. ko pahchanna hoga uske baad aap    verified ho jayenge waise main ye sab kyu bata raha hoon aapko ye sab to aap log pahle se jante hai.
7 Iske baad aapko submit button par click karna hai.
Bas aapka post kuch hi samay me index ho jayega ab aap ise check kar sakte hai. Check karne ke liye aapko google me apne post ka url paste karna hai au ul ke pahle "site:" laga dena hai aur enter kar de.
Jaise ki mera post ka url hai https://hinditoo.com/any-post.html to hame google me site:https://hinditoo.com/any-post.html dalkar enter karna hoga.

Second Methode:
1 Sabse pahle aap Google Search Console me login ho jaye.
2 Uske baad aap search console ke dashboard par ajayenge.
3 Dashboard me Crawl par click karke Fetch as Google par jaye.
4 Box me post ka url dale aur Fatch ki button par click karde.
Yaha pat thoda dhyan de jab aap post ka url paste karenge to usme se apne homepage ka url hata de kyunki aapke homepage ka url pahle likha huwa hota hai
5 Ap ek naya window khulega usme Crawl only this url ko select kare aur Go ki button par click kare.

Ab aapka post index ho chuka hai 1-2 minute baad Google par check kar sakte hai.


Google me post ko fast kaise index kare.
Read More

10/19/2018

SEO in hindi, SEO kya hai aur kaise kaam karta hai?

SEO in hindi, SEO kya hai: Hindi Too me phir se aapka swaagat hai aaj main aapko batane ja hoon SEO ke bare me. SEO yani ki Search Engine Optimisation, dosto agar aap ek blogger hai to iske bare me jaroor pata hoga aur agar aapko nahi pata hai to main ise detail me bataoonga.

SEO in hindi, SEO kya hai
SEO in hindi, SEO kya hai

SEO in hindi, SEO kya hai

Doston ab blogging karna shayad thoda muskil ho gaya hai kiunki isme bheed badhta ja raha hai aur competitors jyada ho chuke hai aur aane waale kuch saalo me ye aur bhi muskil hota gayega kiuki badhti aabadi ke is daur me khud ki ek pahchan banana katthin hone laga hai to agar aap blogging ke liye bilkul serious hai to aap ye kar sakte hai lekin agar aap sirf paise kamane ke liye blogging karna chahte hai to aap success nahi ho payenge.

Ab aaplog sochte honge ki kiya yaar koi bhi insaan jo kuch bhi karta hai to paise ke liye hi karta hai, ha ye sach hai main bhi yahi kahta hoon lekin apne Passion aur earning ke bheech ek balance banana bahut jaroori hai aisa bhi nahi hai ke aap koi bhi kaam sirf passion ke liye karo, earning bhi jaruri hai. To agar aap blogging me khud ki pahchan banana chahte hai to aapko SEO ke bare me janna bahut jaruri hai.

SEO in hindi, SEO kya hai

SEO Ya Search Engine Optimization blog ranking badhane aur blog par traffic increase karne Ke liye bahut jaruri hota hai.

SEO do tarah ke hote hai:-

 1 On Page SEO
 2 Off Page SEO

On page SEO me content, keyword, designing, heading etc. aata hai jabki of page SEO me Backlinks, Social media share karna, dusre website par comment karke Backlinks banana etc. aata hai.

Seo ka matlab yah hai ki hai ki hum apne site, blog contents, keywords, Backlinks, javascript & CSS, Load Time, ko aise optimise kare ki wo Google Search results me sabse pahle show ho. Is parkriya ko Optimization kahte hain.


SEO Kaise Kaam Karta hai ?

SEO techniques Kaise kaam karta hai? Yah aapke man me bhi sawaal hoga. Jab bhi hum Google, Bing, Yahoo ya aise kisi dusre search engine me kuch search karte hain toh hajaaron results aate hain aur hum un me se kisi ek, do, teen jyada se jyada panchwe result par hi click karte hain koi hi aisa insaan hoga jo google ke second page ko kholta hoga mushkil se koi banda 2nd page ke search results ho dekhta hai kiuki ham koi bhi cheej ko shortcut tarike se khojte hai ye psychological think hai.

SEO in hindi, SEO kya hai...

Matlab yah hai ki jo bhi blogs ya websites search results ke pahle page me aata hai uski ranking high hoti hai aur wo blog well optimized hota hai aur SEO ko follow karta hai. To kabhi aapne ye socha hai ki hajaaron laakho ki tadaat me google itni saari page ko ranking ke hisab se kaise index karta hai kis blog ko no-1 aur kis blog ko no-2 par rakhna hai ye kaise decide karta hai to chaliye iske baare me main batata hoon.

Google Blog par published huye post ki writing skills, Keyword, Content , Quality , Content Length, Baclink, Internet Links,Domain level, Traffic, Pageviews, On Page SEO , Off Page SEO etc ke adhar par inki ranking karta hai .

SEO in hindi, SEO kya hai...

To chaliye mujhe lagta hai ki ye post"SEO in hindi, SEO kya hai" aapko achcha laga hoga itni jankari aapke ke liye kafi hai aap ye samajh gaye honge ki kis tarah se ham apne site ko optimisation kare ki wo Google me 1st page par ranking kare. Agle post me main SEO Optimization kaise kiya jaye iske baare me bataunga.

Read Also:
AdSense kya hai aur kaise setup kare
On page seo kya hai
Website ko kaise promote kare
Gmail account delete kaise kare
Google me post ko fastly kaise index kare
Internet se paise kaise kamaye
Blog Ko Successfull Kaise Banaye aur jayda Earning kare
Website Loading Speed Ko Kaise Badhaye
Read More